National

जीएसटी आयकर छापा: कानपुर में इत्र कारोबारी के घर से 175 करोड़ बरामद, दो बेटे हिरासत में !

2021 दिसम्बर 25/PRJ News ब्यूरो, दिल्ली :

इत्र कारोबारी पीयूष जैन के घर से अकूत खजाना निकला है। डीजीजीआई (डायरेक्ट्रेट जनरल ऑफ जीएसटी इंटेलीजेंस) की टीम ने आयकर विभाग के साथ मिलकर छापेमारी में कारोबारी के आवास से 175 करोड़ नगद बरामद किए हैं। सूत्रों के मुताबिक अभी भी गिनती जारी है। पीयूष के बेटों प्रत्यूष और प्रियांश जैन को हिरासत में लेकर टीमें कन्नौज गई हैं, जहां शुक्रवार को सीज किए घर की तलाशी ली जा रही है। उप्र में जीएसटी छापों में यह कैश की अब तक की सबसे बड़ी बरामदगी है। यह रकम शिखर पान मसाला समूह पर छापे के बाद बरामद हुई है। जहां से इत्र कारोबारी पीयूष जैन के बारे में कुछ सुराग मिले थे।

पीयूष जैन लापता, बेटे फंसे

पीयूष जैन के घर अहमदाबाद जीएसटी इंटेलीजेंस विंग की कार्रवाई लगातार दूसरे दिन जारी रही। पीयूष की तलाश में टीमें छापा मार रही हैं लेकिन कानपुर, कन्नौज और मुम्बई में उसकी लोकेशन नहीं मिली। कानपुर के किदवई नगर के आनंदपुरी स्थित जैन के निवास से दोनों बेटों प्रत्यूष और प्रियांश जैन को हिरासत में लिया गया है। कन्नौज स्थित घर, फैक्टरी में डीजीजीआई अफसर दोनों बेटों को लेकर गए। जहां नगदी, संपत्तियों और कागजात की छानबीन की जा रही है। पीयूष जैन का घर कन्नौज के मोहल्ला छिपट्टी में है। उस मोहल्ले में अमूमन इत्र कारोबार से जुड़े लोगों का ही घर है। पीयूष जैन के मकान में पड़ताल के लिए जीएसटी की विजिलेंस टीम गुरुवार को भी गई थी। लेकिन किसी के न होने और मकान में ताला लगा मिलने के बाद टीम ने मकान को सील कर दिया था।

80 बक्सों में भरकर बैंक भेजा गया पैसा

बरामद नोट गिनने के लिए स्टेट बैंक की ट्रांसपोर्ट नगर और मालरोड शाखा से 13 मशीनें मंगाई गईं। रकम भरने के लिए 80 बक्से मंगाए गए। एक कंटेनर में रकम को पुलिस व पीएसी की कड़ी सुरक्षा में स्टेट बैंक की माल रोड ब्रांच तक भेजा गया। सूत्रों के मुताबिक छापों में अभी तक गिनी जा चुकी बरामद रकम बैंक भेजी जा चुकी है।

ट्रांसपोर्टर के घर से मिले 1.1 करोड़ रुपए

पीयूष जैन के घर से मिले सुरागों के आधार पर छापों की जद में आए गणपति रोड कैरियर्स के मालिक प्रवीण जैन के घर और आफिस से 1.10 करोड़ रुपये नगद भी सीज किए गए हैं। सर्वोदय नगर स्थित डीजीजीआई आफिस में 12 घंटे तक प्रवीण जैन के बयान दर्ज किए गए। सूत्रों के अनुसार प्रवीण जैन ने स्वीकार किया कि उनके घर से 45 लाख व ऑफिस से 65 लाख रुपये मिले हैं। प्रवीण के मुताबिक, यह कारोबारी रकम है जबकि पीयूष जैन करीबी रिश्तेदार हैं।

कन्नौज में एक और इत्र कारोबारी पर छापा

डीजीजीआई टीम ने कन्नौज के होली मोहल्ला निवासी संदीप मिश्र की फर्म पर भी शुक्रवार को छापा मारा। संदीप के कानपुर स्थित रावतपुर में फर्म पर भी पड़ताल की गई। संदीप मिश्र पान मसाला और नमकीन बनाने वाली कंपनी को इत्र का कंपाउंड सप्लाई करते हैं।

Related Articles

Back to top button