Bihar

बिहार के सीतामढ़ी में दर्दनाक हादसा, घर पर पलटा बालू लदा ट्रक!

बरामदे में खेल रहे 3 बच्चों की मौत, तीन अन्य की हालत गंभीर

2021 जुलाई 30 / PRJ News ब्यूरो बिहार :

बिहार के सीतामढ़ी से सटे पुनौरा थाना क्षेत्र के मधुबन में शुक्रवार की दोपहर करीब 12 बजे ओवरलोड बालू लदा ट्रक अनियंत्रित होकर एक घर पर पलट गया। इससे घर के बरामदे में खेल रहे चार बच्चों समेत आठ लोग दब गये। हल्ला होने पर लोग जुटे और प्रशासन को सूचना दी। पास में मौजूद दो जेसीबी की मदद से लोगों ने तत्काल बालू व मलबा में दबे सभी को बाहर निकाला। सभी को सीतामढ़ी सदर अस्पताल ले जाया गया, जहां तीन बच्चों को डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। एक महिला व एक पुरुष सहित तीन की गंभीर स्थिति देखते हुए रेफर कर दिया गया। वहीं दो मामूली रूप से जख्मी को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई।

मृतकों की पहचान पटना निवासी बशीर अंसारी की पुत्री हफ्शा बेगम (12), वहाब अंसारी के पुत्र आबिद अंसारी (06),  व रिजवान अंसारी की छह माह की पुत्री श्यामा खातून के रूप में हुई है। घायलों में वहाब अंसारी का पुत्र हामिद (05), जाकिर अंसारी (60) व साबिर अंसारी की बेटी मुशर्रत खातून शामिल हैं। हामिद को डॉक्टरों ने मुजफ्फरपुर रेफर कर दिया। वहीं दो अन्य का इलाज शहर के निजी अस्पताल में चल रहा है। घटना के बाद चालक व खलासी ट्रक छोड़कर फरार हो गये।

क्रेन आने पर हटा दुर्घटनाग्रस्त ट्रक

जेसीबी से मलबा हटाने के बाद पुलिस ने क्रेन मंगवायी। इसके बाद क्षतिग्रस्त ट्रक को घर से हटाया गया। लोगों ने उक्त ट्रक को मुख्य सड़क पर रखकर जाम कर दिया। इस दौरान आक्रोशित लोगों ने देर से पुलिस के पहुंचने पर उसे खदेड़ दिया। सूचना पर एसडीओ सदर राकेश कुमार, मुख्यालय डीएसपी पीएन साहू के साथ ही बड़ी संख्या में कई थाने की पुलिस व बीएमपी से जवान पहुंचे। इसके बाद लोगों को समझाने का दौर शुरू हुआ।

घटना के विरोध में लोगों ने किया सड़क जाम

घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने सड़क जाम कर प्रदर्शन शुरू कर दिया। लोग मुआवजा व सड़क के चौड़ीकरण की मांग कर रहे थे। लोगों का कहना था कि डुमरा से गोशाला-पुनौरा-रीगा की ओर जाने के लिए यह मुख्य सड़क बन गयी है। सभी बड़ी गाड़ियां इसी रास्ते से जाती हैं। इसके बावजूद सड़क की चौड़ाई कम होने की वजह से अक्सर हादसे होते रहते हैं। स्थानीय जनप्रतिनिधि व पुलिस-प्रशासन के वरीय अधिकारियों ने लोगों को समझाने का प्रयास किया। लेकिन वे लोग अपनी मांग पर अड़े रहे।

27 को थी शादी, रिश्तेदारों से भरा था घर

परिजन ने बताया कि 27 जुलाई को घर में जाकिर अंसारी के बेटे की शादी थी। इसी को लेकर परिजन जुटे थे। इसी दौरान दोपहर में बच्चे बरामदे में खेल रहे थे। वहीं पर जाकिर अंसारी व मुशर्रत खातून बैठे थे। इसी दौरान डुमरा की ओर से आ रहा तेज रफ्तार ट्रक अनियंत्रित होकर घर पर पलट गया। जिससे बालू व मलबा में सभी दब गये। हादसे में तीन बच्चों की मौत हुई है। कुछ लोग जख्मी हुए हैं, जिनका इलाज चल रहा है। पोस्टमार्टम कराकर शव को परिजन को सौंपने की प्रक्रिया चल रही है। स्थिति नियंत्रित है। सड़क से दुर्घटनाग्रस्त ट्रक को हटाने का कार्य जारी है।

Related Articles

Back to top button