Bihar

उपचुनाव में दोनों सीटों पर JDU ने हासिल की जीत, आरजेडी ने दिया कड़ा टक्कर

2021 नवम्बर 02/PRJ News ब्युरो, बिहार:

बिहार में नीतीश कुमार ने अपने विरोधियों को करारा जवाब दे दिया है। नीतीश की पार्टी जदयू ने बिहार की दोनों सीटों पर हुए उपचुनाव में जीत हासिल कर ली है। दरभंगा की कुशेश्वरस्थान और मुंगेर की तारापुर सीट पर राजद प्रत्याशियों को हराकर जदयू ने यह जीत दर्ज की है। चुनाव से ठीक पहले लालू यादव के बिहार आने और प्रचार में उतरने से चुनाव नीतीश के लिए प्रतिष्ठा का सवाल बन गया था।  जदयू ने कुशेश्वरस्थान सीट 12 हजार से ज्यादा वोटों से जीती है। पिछली बार के मुकाबले यह दोगुना है। 2020 के चुनाव में जदयू ने छह हजार वोटों से जीत हासिल की थी। तारापुर सीट करीब 4000 वोटों से जदयू ने जीती है।

तारापुर में जदयू उम्मीदवार राजीव कुमार सिंह को 78 हजार 966 तो राजद उम्मीदवार अरुण कुमार को 75 हजार 145 वोट आए। कुशेश्वरस्थान में जदयू के अमन भूषण हजारी को 59  हजार 882 वोट और राजद के गणेश भारती को 47 हजार 184 वोट प्राप्त हुए। जदयू की इस जीत से साफ हो गया है कि जनता के बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का विश्वास कायम है। जनता का उन्हें समर्थन प्राप्त है।

वहीं, राजद नेता तेजस्वी यादव के लिए अच्छी बात यह रही कि दोनों सीटों पर उन्होंने कड़ा मुकाबला दिया। उप चुनाव में दोनों पार्टियों ने जीत के लिए पूरी ताकत लगायी। मुख्यमंत्री, जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह और केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह समेत एनडीए के तमाम नेता प्रचार में लगे थे। वहीं राजद प्रमुख लालू प्रसाद बीमारी की स्थिति में भी चिकित्सकों से अनुमति लेकर दिल्ली से बिहार आए और चुनाव प्रचार किया। उन्होंने आक्रामक और भावनात्मक बयान भी दिए।

जदयू ने 2020 में दोनों सीटों पर किया था कब्जा

वर्ष 2020 के चुनाव में दोनों ही सीटों पर जदयू ने कब्जा किया था, लेकिन दोनों विधायकों के असमय निधन से उप चुनाव कराना पड़ा। तारापुर में 2020 में जदयू उम्मीदवार मेवालाल चौधरी ने 64 हजार 468 वोट प्राप्त कर राजद के दिव्यप्रकाश को सात हजार से अधिक वोटों से हराया था। राजद उम्मीदवार को 57 हजार 243 वोट मिले थे। तारापुर में 2010, 2015 और 2020 में जदयू ने ही जीत हासिल की थी। वहीं कुशेश्वरस्थान में 2020 में जदयू के शशिभूषण हजारी ने 53 हजार 980 वोट लाकर कांग्रेस के अशोक कुमार को सात हजार से अधिक वोटों से हराया था। कांग्रेस को तब 46 हजार 758 वोट मिले थे। इस सीट पर 2015 में भी जदयू की जीत हुई थी।

विधानसभा में जदयू का 45 का आंकड़ा कायम

जदयू ने 2020 के चुनाव में 43 सीटों पर जीत दर्ज की थी। इसके बाद बसपा से चैनपुर के विधायक जमा खान और लोजपा से मटिहानी विधायक राज कुमार सिंह जदयू में शामिल हुए। इस तरह जदयू के 45 विधायक हो गये। जदयू के दो विधायकों का निधन हो गया। इसके बाद जदयू के विधायकों की संख्या 45 से घटकर फिर 43 हो गई। इसी बीच उक्त दोनों सीटों पर जीत से जदयू के पास फिर से 45 विधायक हो गये हैं। चकाई के निर्दलीय उम्मीदवार सुमित कुमार सिंह का जदयू को समर्थन है और वे सरकार में मंत्री भी हैं।

विधानसभा में किसके कितने विधायक :

राजद : 75, भाजपा : 74, जदयू : 45, कांग्रेस : 19, माले : 12, एआईएमआईएम : 05, हम : 04, वीआईपी : 04, सीपीआई : 02, सीपीएम : 02, निर्दलीय : 01.

जनता ने अपना फैसला सुना दिया : नीतीश

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार विधानसभा उप चुनाव में कुशेश्वरस्थान से जदयू और एनडीए उम्मीदवार अमन भूषण हजारी और तारापुर से राजीव कुमार सिंह को जीत दिलाने के लिए बिहार की जनता को बधाई दी है। उन्होंने राज्य की जनता को धन्यवाद देते हुए कहा है कि लोकतंत्र में जनता मालिक है और जनता ने अपना फैसला सुना दिया है।

Related Articles

Back to top button