BiharDarbhanga

ई-ऑफिस को लेकर हुई बैठक

2022 अप्रैल 26/ PRJ न्यूज़ ब्यूरो, दरभंगा :

समाहरणालय अवस्थित बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर सभागार में जिलाधिकारी राजीव रौशन की अध्यक्षता में दरभंगा जिला प्रशासन के सभी शाखा, सभी विभागों में ई-ऑफिस के माध्यम से शत-प्रतिशत

पत्र एवं संचिका निष्पादन एवं संधारण करने को लेकर बैठक आयोजित की गयी।
बैठक में उपस्थित सभी कार्यालय प्रधान एवं प्रधान लिपिक को संबोधित करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि भारत सरकार एवं राज्य सरकार के द्वारा कार्यालय कार्य निष्पादन हेतु प्रारंभ किया गया ई-ऑफिस प्रणाली बहुत अच्छी पहल है, कागज कलम के माध्यम संचिका निष्पादन करने की व्यवस्था अंग्रेजों के समय से चल रही है और इसमें काफी समय लगता है। साथ ही संचिका या पत्र गुम होने, जलने, गलने एवं दीमक लगने की समस्या बनी रहती है। लेकिन ई-ऑफिस के माध्यम से जहां पत्र एवं संचिका निष्पादन की गति तीव्र हो जाती है वही किस स्तर पर संचिका रुकी हुई है और कब से रुकी हुई है। इसकी जानकारी भी मिल जाती है। इस तरह कार्यालय की कार्य संस्कृति में पारदर्शिता रहती है तथा समय पर कार्य संपन्न होता है।
उन्होंने कहा कि अब जन आकांक्षा में काफी तीव्रता आई है। लोग अपना काम तुरंत निष्पादित करवाना चाहते हैं। आरटीपीएस में जाति एवं आवासीय बनाने के लिए 10 दिन का समय निर्धारित है। लेकिन, आवेदक अंतिम समय में आवेदन करते हैं और एक से दो दिनों में प्रमाण पत्र प्राप्त करने की आकांक्षा रखते हैं।
ई-ऑफिस इस जन आकांक्षा को पूरा करेगा। इससे हर स्तर पर कार्य संस्कृति में सुधार होगा और जब हर स्तर पर सुधार होगा तभी व्यवस्था में सुधार हो सकेगा।
कभी-कभी ऐसा देखा जाता है कि सही काम स-समय न करने पर उसके न करने के जवाब में लगातार पत्राचार करना पड़ता है और जो काम एक बार में संपन्न हो जाता, उसके लिए वर्षों संचिका बढ़ती रहती है और मोटी होती रहती है। ई-ऑफिस में ऐसी विलंब की संभावना नहीं रहेगी।
उन्होंने कहा कि ई ऑफिस के माध्यम से उन्हें केवल डाक देखने में एक तिहाई समय कम लगेगा। संचिका सही ढंग से बढ़ेगी और पदाधिकारी एवं संबंधित लिपिक कहीं से कभी भी अपना काम निष्पादन कर सकेंगे।
जिला सूचना विज्ञान पदाधिकारी राजीव कुमार झा ने बताया कि समाहरणालय के प्रमुख शाखाओं द्वारा ई-ऑफिस के माध्यम से कार्य प्रारंभ कर दिया गया है सामान्य शाखा द्वारा 270 संचिका ई-ऑफिस के माध्यम से निष्पादित किया गया है। 01 जून से अनुमंडल स्तर के कार्यालय को तथा अगस्त से प्रखंड एवं अंचल कार्यालय को तथा अक्टूबर से अनुषंगी सभी विभाग के कार्यालय को ई-ऑफिस से जोड़ दिया जाएगा।
जिलाधिकारी ने कहा कि संबंधित सभी पदाधिकारी आज से ही ई-ऑफिस के माध्यम से अपना डाक देखना शुरू कर दें और यदि कठिनाई है तो एनआईसी से संपर्क कर जानकारी प्राप्त कर लें।
जिलाधिकारी ने जिला सूचना विज्ञान पदाधिकारी को सभी कार्यालय में एक-एक कार्यपालक सहायक के साथ इंटरनेट की व्यवस्था कर देने एवं ग्रुप में सभी प्रधान लिपिक को एक बार प्रशिक्षण दे देने का निर्देश दिया।
बैठक में उप विकास आयुक्त तनय सुल्तानिया, नगर आयुक्त अखिलेश प्रसाद सिंह, डीआरडीए निदेशक गणेश कुमार, उप निदेशक जन संपर्क नागेंद्र कुमार गुप्ता, विशेष कार्य पदाधिकारी अजय कुमार सहित संबंधित पदाधिकारी एवं प्रधान लिपिक उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button