Darbhanga

DM दरभंगा ने क्षति ग्रस्त सड़कों की मरम्मती को दिए गए निर्देश !

बाढ़ रहात व सुरक्षा कार्य को लेकर की गई बैठक

2021 अगस्त 11 / PRJ News ब्युरो/ दरभंगा :

 

 

दरभंगा जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एस.एम की अध्यक्षता में बाढ़ राहत, बचाव व सुरक्षा कार्य को लेकर संबंधित पदाधिकारियों एवं अभियंताओं के साथ बैठक की गई।

बैठक में जिलाधिकारी ने वैसे अंचलों को जिनके द्वारा अभी तक पूर्णरूपेण बाढ़ प्रभावित परिवारों का डाटा नहीं भेजा गया है उन्हें शीघ्र डाटा भेजने के निर्देश दिए। बहादुरपुर, बेनीपुर, दरभंगा सदर, कुशेश्वरस्थान एवं कुशेश्वरस्थान पूर्वी अंचल इनमें शामिल है।

उन्होंने कहा कि डाटा अद्यतीकरण के दौरान लगभग एक लाख डाटा डिलीट किया गया, लगभग 78 हजार डाटा जोड़ा गया, सभी सर्वेक्षणकर्ता विधिवत सभी जगह गए। इसके बावजूद अब तक डाटा नहीं भेजा जाना अवांछनीय है।
उन्होंने ऑनलाइन जुड़े सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी व अनुमंडल पदाधिकारी को कहा कि 12 एवं 13 अगस्त को भारी बारिश होने की चेतावनी प्राप्त है। इससे स्थानीय लोगों को अवगत करा दिया जाए तथा अपने अपने क्षेत्र पर सतत निगरानी रखी जाए। तटबंध पर खतरे के निशान वाले स्थलों पर मिट्टी का बैग पर्याप्त संख्या में भंडारण कर लिया जाए। नदियों के जल स्तर के संबंध में पूछने पर बैठक में उपस्थित बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल दरभंगा एवं झंझारपुर के कार्यपालक अभियंताओं ने बताया कि नदी का जलस्तर वर्तमान में स्थिर है।

उन्होंने अंचलाधिकारीयों से पथ निर्माण विभाग के क्षतिग्रस्त सड़कों, जिनकी मरम्मति आवश्यक है, की जानकारी प्राप्त होने पर पथ निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता को उन सड़कों की शीघ्र मरम्मति कराने के निर्देश दिए।
हायाघाट के अंचलाधिकारीयों ने बताया कि अकराहा पुल से हायाघाट तक की सड़क की मरम्मति की आवश्यकता है इसके अतिरिक्त हायाघाट से जटमलपुर, चंदेल पट्टी चौक के समीप एवं हायाघाट के गोदाम तक की सड़क क्षतिग्रस्त है।

जिलाधिकारी ने हायाघाट से गोदाम तक की सड़क की मरम्मति मनरेगा के अंतर्गत कराने के निर्देश दिए।
वहीं कुशेश्वरस्थान से 05 किलोमीटर तक की सड़क, दरभंगा सदर के हवाईअड्डा से रानीपुर, बिरौल -सहरसा पथ में पंडोल के पास सड़क की मरम्मति कराने के निर्देश दिए। ग्रामीण कार्य विभाग को केवटी से बहेड़ी पथ, कंसा मुसहरी- चातर चौक पथ में, केवटगामा में कंशी पुल, देकुली- महुआ पथ, ठेंगहा से कमला बलान बांध तक की सड़क की मरम्मति कराने के निर्देश दिए।

हनुमाननगर के बेलाही से काली पथ में सड़क मरम्मति कराने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने जिला कृषि पदाधिकारी को फसल क्षति मुआवजा का वितरण पारदर्शी तरीके से ससमय करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बटाईदार जिसने सही मायने में खेती की है उसे ही फसल क्षति का मुआवजा मिलना चाहिए। उन्हें संबंधित वार्ड सदस्य और किसान सलाहकार के द्वारा संयुक्त रूप से फसल क्षति सत्यापन के आधार पर मुआवजा दिया जाएगा। उन्होंने जिला कृषि पदाधिकारी को कहा कि संबंधित किसान सलाहकार द्वारा बटाईदारों को तथ्य से अवगत कराते हुए उनसे आवेदन भी करवाया जाएगा।
उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि फसल क्षति मुआवजा के वितरण में कहीं से भी अनियमितता की शिकायत नहीं मिलनी चाहिए। मक्का का बीज वितरण पारदर्शी तरीके से जनप्रतिनिधियों को अवगत करा कर करने के निर्देश दिया गया।

बैठक में अपर समाहर्ता विभूति रंजन चौधरी, उप निदेशक जन संपर्क नरेंद्र कुमार गुप्ता, जिला कृषि पदाधिकारी राधा रमन, अनुमंडल पदाधिकारी सदर राकेश कुमार गुप्ता संबंधित विभाग के कार्यपालक अभियंता गण उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button