BiharDarbhanga

दरभंगा : टीकाकरण एवं बाढ़ राहत कार्य की हुई समीक्षा

17 सितम्बर को 07 बजे से होगा टीकाकरण,टीका कार्य मे लगे कर्मियों को मिलेगा 150 रूपये!

2021 सितम्बर 16/PRJ News ब्युरो,दरभंगा :

दरभंगा समाहरणालय अवस्थित अम्बेडकर सभागार में जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एस.एम की अध्यक्षता में माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के जन्म दिवस 17 सितंबर के सुअवसर पर आयोजित महा-टीकाकरण अभियान की सफलता एवं बाढ़ राहत कार्य की स्तिथि की समीक्षा बैठक आयोजित की गयी।
बैठक को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि 17 सितंबर को सभी प्रखण्ड के प्रत्येक टीकाकरण केन्द्र पूर्वाह्न 07ः00 बजे से प्रारंभ हो जाना चाहिए, कल दोनों डोज का टीका दिया जाएगा। सभी प्रखण्ड विकास पदाधिकारी एवं प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी इसकी व्यापक तैयारी कर लें और कहाँ-कहाँ टीकाकरण केन्द्र बनाया जाएगा, इसका सूची आज ही अपराह्न में जिला को उपलब्ध करा दें।
उन्होंने कहा कि कल जितने लोगों का टीकाकरण होगा, उनकी डाटा प्रविष्टि कोविन पोर्टल पर कल ही हो जानी चाहिए। इसके लिए आवश्यकानुसार डाटा इन्ट्री ऑपरेटर उपलब्ध कराया जा रहा है। यदि आवश्यकता हो तो अपने प्रखंड में अपने स्तर से भी डाटा इन्ट्री ऑपरेटर रख सकते हैं। उन्होंने कहा कि विश्वकर्मा पूजा के अवसर पर टीकाकरण कार्य करने के लिए टीकाकरण कार्य में लगे हुए प्रत्येक कर्मी को 150 रूपये अतिरिक्त प्रदान किया जाएगा। वाहन चालक को 100 रूपये भोजन के लिए अधिक, यानि कुल 250 रूपये प्रदान किया जाएगा।
उन्होंने सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के मद से आज ही राशि की निकासी कर लेने एवं टीकाकरण कार्य में लगाये जाने वाले कर्मियों के बीच वितरित करवाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि यदि कोई कर्मी 16 सितंबर को छूट जाता है तो उसे 17 सितंबर के शाम में अतिरिक्त राश 150 रुपये निश्चित रूप से उपलब्ध करा दी जाए।
उन्होंने चेतावनी भरे लहज़े में कहा कि कल कहीं भी टीकाकरण में लापरवाही या विलम्ब पाया जाएगा, तो संबंधित सभी के विरूद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि सभी प्रखण्डों को टीका आवंटित कर दिया गया है।
स्थानीय आपदा के तहत मृतक के आश्रितों को मुआवजा राशि 04 लाख रूपये प्रदान करने में विलम्ब को लेकर उन्होंने सभी अंचलाधिकारी, सभी अंचल कार्यालय के प्रधान लिपिक, नाजिर एवं संबंधित लिपिक को चेतावनी देते हुए कहा कि मृतक के शव परिक्षण प्रतिवेदन (पोस्टमार्टम रिपोर्ट) प्राप्त होने के बाद भी राशि देने में विलम्ब होने पर सख़्त कारवाई की जाएगी। दोषी सभी संबंधित कर्मी को जेल की हवा खानी पड़ेगी। साथ ही आपदा अधिनियम, 2005 के तहत अंचलाधिकारी को भी पद से हटाया जाएगा।
उन्होंने कहा कि दरभंगा के 04-05 अंचलों से ऐसी शिकायतें प्राप्त हो रही है कि आपदा में मृतक के आश्रित को मुआवजा राशि देने में विलम्ब किया जा रहा है, जबकि सरकार का आदेश है कि 24 घंटे के अन्दर मृतक के आश्रित को अनुग्रह अनुदान की राशि उपलब्ध करा दी जाए। उन्होंने खासकर बिरौल, गौड़ाबौराम, कुशेश्वरस्थान के कर्मियों को चेतावनी दी।
जिलाधिकारी ने बाढ़ राहत कार्य की समीक्षा के दौरान सभी संबंधित अंचलाधिकारी को जी.आर. राशि के वितरण के लिए सूची बनाने के कार्य में तेजी लाने का निर्देश दिया और कहा कि यदि अंचलाधिकारी संतुष्ट है कि किसी गाँव में पानी रहा है और उसका जीयो टैग फोटो भी उपलब्ध है, तो वे लाभुक को जी.आर. सूची में शामिल करने के लिए स्वतंत्र है। उन्होंने कहा कि इस कार्य में ज्यादा विलम्ब नहीं किया जाए।
बैठक में उपस्थित प्रखण्डों के सभी वरीय पदाधिकारियों को 17 सितंबर के सुबह अपने-अपने प्रखण्ड का दौरा कर ससमय टीकाकरण शुरू करवाने तथा बाढ़ राहत कार्य का जायजा लेने का निर्देश दिया गया।
बैठक में उप विकास आयुक्त तनय सुल्तानिया, सहायक समाहर्त्ता अभिषेक पलासिया, उप निदेशक, जन सम्पर्क नागेन्द्र कुमार गुप्ता, सिविल सर्जन डॉ. अनिल कुमार, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. अमरेन्द्र कुमार मिश्र सहित तमाम पदाधिकारीगण उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button