ChhattisgarhPolitics

एकजुट भारत के बुलंद आवाज थे डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी : बृजमोहन अग्रवाल

2021 जुलाई 06 / रायपुर/PRJ News ब्यूरो: भाजपा विधायक एवं पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी के जयंती के अवसर पर भाजपा कार्यलय में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी का देश के नव निर्माण, एकता एवम अखंडता में अहम योगदान है। इन जैसे क्रांतिकारियों के कारण ही आज भारत देश एकता के सूत्र में बंध हुआ है। डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी व्यक्ति नहीं महामना थे। डॉ मुखर्जी के कारण कश्मीर आज भारत का अभिन्न अंग है। उन्होंने देश की एकता एवम अखंडता के लिए सत्ता को ठोकर मारी मंत्री पद से इस्तीफा दिया और संघर्ष का रास्ता चुना । देश में दो प्रधान, दो विधान और दो निशान नही चलेगा के नारे के साथ आंदोलन किया। आज जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है इसमें बड़ा योगदान डॉ मुखर्जी का ही है। डॉ मुखर्जी ने देश के एकता के लिए अपने प्राण निछावर किया, ऐसे महामानव को हम आज याद कर रहे हैं। हमारे लिए गौरव की बात है कि हम सब उस पार्टी के कार्यकर्ता है जहां ऐसे महापुरुष के सिद्धान्तों में हमें काम करने का अवसर मिला।

श्री अग्रवाल ने कहा कि डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी भारत की संप्रभुता के मुद्दे पर किसी भी प्रकार का समझौता ना किए जाने के पक्षधर थे। 1951 52 में हुए पहले आम चुनाव के दौरान जम्मू और कश्मीर को लेकर उनका रुख यही था कि भारतीय संविधान के अनुच्छेद 370 को निरस्त करके राज्य को पूरी तरह से भारत के संविधान के तहत लाया जाए। डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी और मास्टर तारा सिंह के संघर्ष का ही परिणाम था कि पंजाब और बंगाल का आधा हिस्सा भारत का अभिन्न अंग बना। वस्तुतः डॉ मुखर्जी ने राष्ट्रीय एकता के लिए ही अपने प्राणों का उच्चतम बलिदान दिया। एक देश में दो विधान, दो निशान और दो प्रधान नहीं चलेंगे के उनके नारों ने लाखों राष्ट्र वादियों के हृदय, मन मस्तिष्क और आत्मा पर अमित छाप छोड़ी ।
श्री अग्रवाल ने आज 3 स्थानों पर वृक्षारोपण के कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि पिछले 10 दिनों से डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी के याद में पार्टी के सभी मोर्चों , प्रकोष्ठों के कार्यकर्ता जगह जगह पर वृक्षारोपण कर रहे हैं। यह वृक्ष हमें सदैव याद दिलाता रहेगा की हम सब ने डॉक्टर मुखर्जी के याद में यह वृक्ष लगाया था। प्रकृति हमारी संस्कृति है , हमारे पूर्वजों ने इसी के चलते पीपल, बरगद, नीम, आंवला जैसे वृक्षो की समय-समय पर पूजा करने का रास्ता दिखाया था। पेड़ को आत्मा का स्वरूप माना गया है। और पेड़ की रक्षा प्रकृति की रक्षा और प्रकृति से ही जीवन की सुरक्षा का मंत्र दिया था। पर आधुनिकता के इस दौर में हमने अपने पूर्वजों की बातें भुला दी। जिसका परिणाम है कि आज हमें ऑक्सीजन के लिए मारामारी व भटकना पड़ रहा है। वृक्ष लगाकर ही हम अपने जीवन को सुरक्षित कर सकते हैं ।
सुंदर नगर वार्ड के वृक्षारोपण कार्यक्रम में विधायक बृजमोहन अग्रवाल सुनील सोनी मोतीलाल साहू श्रीचंद सुंदरानी रमेश ठाकुर महेश शर्मा मृत्युंजय दुबे रामकिंकर मनीषा चंद्राकर रंभा चैधरी पायल अम्बवानी साहू शिव भोई, प्रशांत ठाकुर, प्रशांत शर्मा माया शर्मा, बबली सेन, निर्मला सोनी, भूषण साहू सहित वार्ड के वरिष्ठ नागरिक उपस्थित थे उपस्थित अतिथियों ने वृक्ष लगाकर वृक्षारोपण का संदेश दिया।

व्यास तालाब बिरगांव में रायपुर जिला भाजपा महिला मोर्चा द्वारा आयोजित वृक्षारोपण कार्यक्रम में प्रमुख रूप से बृजमोहन अग्रवाल सुनील सोनी मोती राम साहू श्रीचंद सुंदरानी नंदे साहू राजीव अग्रवाल सच्चिदानंद उपासने सुभाष तिवारी संजय श्रीवास्तव सीमा संतोष साहू रोहित साहू होरी लाल देवांगन जितेंद्र धुरंधर रविंद्र ठाकुर, ओम प्रकाश साहू स्वप्निल मिश्रा वंदना मुखर्जी उर्मिला देवांगन, नीतू सोनी ,माया शर्मा, मनीषा चंद्राकर, रंभा चैधरी, पायल अम्बवानी सहित सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे।
भाजपा पिछड़ा वर्ग द्वारा भाटा गांव में आयोजित वृक्षारोपण समारोह में बृजमोहन अग्रवाल ,सुनील सोनी, मोती राम साहू, श्रीचंद सुंदरानी ,नंदकुमार साहू, रमेश ठाकुर ,यादराम साहू किरण साहू, अखिलेश कश्यप, सुनील चैधरी, रामकिंकर, लव ठाकुर ,प्रताप यादव, करण यदु ,सुरेश साहू ,आनंद साहू ,सुरेश वर्मा भारती साहू आनंद साहू भरत देवांगन तरुण यादव सहित पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के कार्यकर्ता उपस्थित थे!

• एकजुट भारत के बुलंद आवाज थे डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी!

• विघटनकारी, राष्ट्रविरोधी तत्वों व साम्प्रदायिक राजनीति के खिलाफ सत्ता को ठोकर मार दी थी डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने!

• देश की एकता और अखंडता के लिये अपना बलिदान दिया श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने!

Related Articles

Back to top button