AssamGuwahati

ASSAM : ग्वालपाड़ा के मियां संग्रहालय को किया गया सील, सीएम बोले- इसमें नया क्या है?

2022 अक्टूबर 25 / PRJ न्यूज़ ब्यूरो,जोरहाट:

असम के ग्वालपाड़ा जिले में प्रशासन ने सोमवार को मियां संग्रहालय को सील कर दिया। इस संग्रहालय का उद्घाटन रविवार को अखिल असम मियां परिषद की तरफ लखीपुर में किया गया था ।

सीओ आर गोगोई ने बताया कि ग्वालपाड़ा के उपायुक्त के निर्देश पर यह कार्रवाई की गई। पीएमएवाई (प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण) के तहत बने घरों में से एक में यह संग्रहालय बनाया गया था।

उधर, इस मामले में मुख्यमंत्री हिमंत विश्व शर्मा ने कहा कि इसमें नया क्या है? वहां रखे गए सामानों में ‘लुंगी’ को छोड़कर सभी असमिया लोगों के हैं। उन्हें सरकार को यह साबित करना होगा कि ‘नंगोल’ का उपयोग केवल मियां लोग करते हैं, अन्य नहीं। उन्होंने कहा कि राज्य के बुद्धिजीवियों को इस पर विचार करना चाहिए। जब मैंने मियां शायरी के खिलाफ आवाज उठाई तो उन्होंने मुझे सांप्रदायिक कहा। अब मियां कविता, मियां स्कूल, मियां संग्रहालय यहां हैं । कार्यालय खुलने के बाद मामले पर कार्रवाई की जाएगी।

उद्घाटन के बाद खड़ा हो गया विवाद :
मियां संग्राहलय के उद्घाटन के बाद ही इसको लेकर विवाद खड़ा हो गया था। पूर्व भाजपा विधायक शिलादित्य देव ने इस कड़ी प्रतिक्रिया दी थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उन्होंने कहा था कि मियां संग्रहालय को तुरंत हटा दिया जाना चाहिए। वह असम में मियां संग्रहालय के अस्तित्व की अनुमति नहीं देंगे । कभी भी असमिया संस्कृति को मियां समुदाय स्वीकार नहीं करेगा।

उद्घाटन के बाद खोला गया यह संग्राहलय
उद्घाटन के बाद यह संग्रहालय रविवार को जनता के लिए खोल दिया गया। इसका उद्देश्य राज्य में रहने वाले लोगों के एक छोटे वर्ग की संस्कृति और विरासत को संरक्षित करना है। छोटे सेटअप में सभी आगंतुकों के लिए मिया समुदाय से संबंधित पुरानी वस्तुएं प्रदर्शित की जानी थीं। हालांकि, पिछले काफी समय से इसका उपयोग किया जा रहा था।

Related Articles

Back to top button