Uttar Pradesh

KANPUR : सड़क हादसे में 26 की मौत, रातभर चला पोस्टमार्टम

सुबह सीएम योगी कोरथा गांव पहुंचकर पीड़ित परिवारों से मिलेंगे - कानपुर सड़क हादसे में मरने वालों की संख्या 25 हो गई है। मरने वालों में ज्यादातर महिलाएं और बच्चे हैं। जानकारी के मुताबिक हादसे में अबतक 12 महिलाओं और 09 बच्चों की मौत हो चुकी है। ऐसे हुआ ये हादसा।

2022 अक्टूबर 02 / PRJ न्यूज़ ब्यूरो :

कानपुर में शनिवार को बड़ा हादसा हो गया। साढ़-घाटमपुर मार्ग पर रात को ट्रैक्टर ट्रॉली खड्ड में पलटने से 26 लोगों की मौत हो गई। दो दर्जन से अधिक गंभीर रूप से घायल हुए हैं। मरने वालों में 9 बच्चे, 12 महिलाएं और 5 किशोर शामिल हैं। मौके पर एक दर्जन एम्बुलेंस बुलानी पड़ीं। शवों को सीएचसी घाटमपुर भेजा गया। घायलों को हैलट अस्पताल भिजवाया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर शोक जताते हुए घायलों का उचित इलाज करने के आदेश दिए हैं। देर रात सभी मृतकों के पोस्टामार्टम घाटमपुर सीएचसी में शुरू हो गए हैं और सुबह छह बजे ड्योढी घाट पर सभी का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

कस्बे के कोरथा गांव में रहने वाले राजू निषाद के एक साल के बेटे का मुंडन संस्कार था। शनिवार सुबह 11 बजे राजू ट्रैक्टर ट्रॉली से निषाद समुदाय के 50 लोगों को लेकर उन्नाव के बक्सर स्थित चंद्रिका देवी मंदिर गया था। इनमें बड़ी संख्या में महिलाएं और बच्चे भी थे। मुंडन के बाद दोपहर तीन बजे सभी लोग वाहपस गांव के लिए निकले थे।

शराब ठेके पर पी शराब घायल एक महिला ने बताया कि गांव लौटने के दौरान रास्ते में देसी शराब का ठेका पड़ा। यहां ट्रैक्टर रोककर सभी पुरुषों ने शराब पी। इसके बाद राजू ने ट्रैक्टर तेजी से लहराकर चलाना शुरू कर दिया। महिला के मुताबिक कई बार उसे टोका भी गया पर माना नहीं। हरदेव बाबा मंदिर के पास पहुंचे ही थे तभी ट्रैक्टर अनियंत्रित हो गया और किनारे खड्ड में जा गिरा। बताया जा रहा है कि इसमें बारिश का पानी भरने के कारण यह तालाब के रूप में तब्दील हो चुका है। हादसे की सूचना पर कमिश्नर, डीएम, एसपी कानपुर आउटर समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे। ग्रामीणों की मदद से पुलिस ने गड्ढे से लोगों के शव किसी तरह निकालने शुरू किए।

मृतकों के परिजनों को चार लाख व घायलों को 50 हजार 
हादसे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर गहरा दुख व्यक्त किया है। उन्होंने हादसे में मरने वाले के परिजनों को दो-दो लाख रुपये देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी दुख जताया है। उन्होंने मरने वाले के परिजनों को दो-दो लाख और घायलों को 50-50 हजार रुपये मुआवजा देने का ऐलान किया।

परिवारों को सांत्वना देने आ सकते सीएम 
घटना को लेकर रविवार सुबह 9:30 बजे सीएम योगी आदित्यनाथ कानपुर आ सकते हैं। उनके सुबह पुलिस लाइन हेलीपैड पर उतरकर सीधे कोरथा जाने की संभावना है। इसको लेकर देर रात से ही पुलिस लाइन हेलीपैड से लेकर कोरथा में तैयारियां शुरू करा दी गई हैं। मुख्यमंत्री हादसे में घायल मरीजों का हाल जानने के लिए हैलट भी जा सकते हैं।

कब क्या हुआ
दोरहर 03 बजे दोपहर को ग्रामीण बक्सर मंदिर से कोरथा के लिए निकले
शाम 07:30 बजे हरदेव बाबा मंदिर के पास ट्रैक्टर-ट्राली खाई में गिरी
07:40 बजे स्थानीय लोगों ने ट्राली से दबे लोगों को निकालना शुरू किया
08:15 बजे लोकल पुलिस बिना क्रेन या जेसीबी के मौके पर पहुंची
8:30 बजे पहली एंबुलेंस और एसपी आउटर पहुंचे
9:00 बजे डीएम, उनके बाद कमिश्नर, एडीजी आईजी पहुंचे
9:50 बजे चार घायलों को लेकर पहली एंबुलेंस हैलट पहुंची

LATEST UPDATE :

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज मृतकों के परिजनों से मिलने कानपुर पहुंच सकते हैं। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत कई लीडर्स ने हादसे पर दुख जताया है। पीएम ने मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपए और घायलों को 50,000 रुपए की मुआवजा देने की घोषणा की है।

 

Related Articles

Back to top button