Maharashtra

गणेश चतुर्थी के मौके पर घर बैठे करें मुंबई के सिद्धिविनायक के लाइव दर्शन

September 01/2022 PRJ न्यूज़ ब्यूरो

भगवान श्रीगणेश को सभी देवताओं में प्रथम पूज्य कहा जाता है यानी हर शुभ कार्य से पहले इनकी पूजा जरूर की जाती है। इस बार गणेश उत्सव 31 अगस्त से शुरू होकर 9 सितंबर तक मनाया जाएगा।

इन 10 दिनों में हर कोई भगवान श्रीगणेश को प्रसन्न करने के लिए अलग-अलग प्रयास करेगा। साथ ही इन दिनों में गणेश मंदिरों में भक्तों की भीड़ भी उमड़ेगी। वैसे तो देश में कई गणेश मंदिर है, लेकिन उन सभी मुंबई स्थित सिद्धिविनायक (Siddhivinayak Temple, Mumbai) का विशेष महत्व है।

गणेश चतुर्थी के मौके पर आप घर बैठे सिद्धिविनायक के लाइव दर्शन कर सकते हैं…

किसने की थी इस मंदिर की स्थापना?

मान्यताओं के अनुसार, सिद्धिविनायक मंदिर की स्थापना सन 1801 में विट्ठु और देउबाई पाटिल ने की। ऐक मान्यता ये भी है कि इस मंदिर के निर्माण जो खर्च आया और एक नि:संतान किसान महिला ने दिया। इस मंदिर में भगवान गणेश की प्रतिमा काले पत्थर से बनाई गई है।

साथ ही रिद्धि-सिद्धि भी विराजमान हैं। प्रतिमा के ऊपर वाले दाएं हाथ में कमल और बाएं हाथ में अंकुश है और नीचे के दाहिने हाथ में मोतियों की माला और बाएं हाथ में मोदक से भरा कटोरा है। सिद्धिविनायक, भगवान श्रीगणेश के सबसे शुभ रूपों में से एक है, जिसमें उनकी सूंड दाईं ओर मुड़ी होती है।

देश के अमीर मंदिरों में से एक

मुंबई स्थित सिद्धिविनायक मंदिर देश के अमीर मंदिरों में से एक है। मान्यता है कि यहां सभी लोगों की मनोकामनाएं पूरी होती हैं। जिन लोगों की इच्छा सिद्धिविनायक पूरी करते हैं, वे यहां गुप्तदान करते हैं।

मंदिर की भव्यता की अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इसकी भीतरी छत सोने से ढकी हुई है। आम लोग ही नहीं देश के बड़े- बड़े सेलिब्रिटी भी इस मंदिर में माथा टेकने आते हैं।

गणेश उत्सव में उमड़ती है भीड़

गणेश उत्सव के दौरान सिद्धिविनायक मंदिर की रौनक देखते ही बनती है। इस दौरान यहां देश ही नहीं बल्कि विदेश से भी भक्त आते हैं।

Opविश्व प्रसिद्ध इस मंदिर के बारे में मान्यता है कि यहां गणपति के दर्शन मात्र से ही व्यक्ति के सारे दु:ख दूर और मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं।

Related Articles

Back to top button