National

समाज सेवा और समर्पण का महायज्ञ है प्रमुख स्‍वामी महाराज जन्‍मशताब्‍दी समारोह

2022 नवंबर 30 / PRJ न्यूज़ ब्यूरो,दरभंगा:

 

प्रमुख स्‍वामी जी महाराज के आदेश से हजारों स्‍वयं सेवकों ने समय-समय पर श्रमदानकर करके देशवासियों के जीवन में खुशहाली लाने का प्रयास किया है. चाहे हो गुजरात का भूंकप हो, तमिलनाडु का सुनामी हो या उड़ीसा का चक्रवात हो, केरल में बाढ़ या रूस-यूक्रेन युद्ध में फंसे छात्रों को भारत पहुंचाना और उनकी मदद करना हो. सभी कार्यों में बीएपीएस के स्‍वयं सेवकों ने निस्‍वार्थ सेवा समर्पण का परिचय कराया है.

इन्‍हीं उद्देश्‍यों को आगे बढ़ाते हुए अगले माह से प्रमुख स्‍वामी महाराज जन्‍मशताब्‍दी समारोह मनाई जा रही है. इसके सफल आयोजन के लिए 80000 स्‍वयं सेवक जुड़े हुए हैं. आयोजन संंबंधी कार्य एक साल पूर्व चालू हो चुका है. अभी तक 64000 स्‍वयं सेवक सेवादान कर चुके हैं. उत्‍सव के समय 55000 से ज्‍यादा स्‍वयं सेवक, भाई, बहन और बालक समारोह को सफल बनाने के लिए सेवाकार्य में जुटेंगे. बीएपीएस द्वारा अलग-अलग स्‍थानों पर आपदा के समय जनहित और समाजहित में सेवाकार्य किए गए हैं, प्रमुख सेवाकार्य-

2001 गुजरात में भूकंप

बीएपीएस ने 400 प्रभावित गांवों में राहत पहुंचाई. 15 गांवों और कॉलोनी का दोबारा से निर्माण कराया. जो भूकंप से तबाह हो गए थे. 51 स्‍कूलों को दोबारा से निर्माण कराया. 40 दिन तक रोजाना 41000 लोगों को गर्म भोजन कराया गया. 45000 मरीजों का उपचार कराया गया.

2004 में तमिलनाडु में सुनामी

बीएपीएस ने प्रभावित इलाकों में रसोई बनाकर 37 दिनों तक रोजाना 5000 लोगों को ताजा भोजन उपलब्‍ध कराया. तबाह हुए गांवों में से दो पट्टीपुलम कुप्‍पम और महाबलीपुरम का दोबारा से निर्माण कराया. स्‍वयं सेवकों द्वारा 51 गांवों में राहत कार्य चलाया गया.

2021 उड़ीसा चक्रवात

बीएपीएस ने जगतसिंहपुर जिले में तीन गांवों का दोबारा से निर्माण कराया, जिसमें चकुलिया,बानीपट, पोटक शामिल हैं. स्‍वयं सेवकों द्वारा चक्रवात से प्रभावित 58 गांवों में राहत कार्य चलाया गया.

रूस-यूक्रेन युद्ध में छात्रों की मदद

बीएपीएस के स्‍वयं सेवकों ने युद्ध के दौरान पोलैंड में 24 घंटे राहत कार्य जारी रखा. 10 दिन तक लगातार 1000 छात्रों गर्म भोजन कराया गया. इसके साथ ही, स्‍वयं सेवकों ने वहां फंसे छात्रों को बाहर निकालने में मदद की.

महंत स्‍वामीजी महाराज की प्ररेणा से समाजसेवा का महायज्ञ है समारोह

अहमदाबाद के प्रमुख स्‍वामी जी महाराज नगर में 15 दिसंबर से आयोजित होने वाला प्रमुख स्‍वामीजी महाराज जन्‍मशताब्‍दी समारोह महंत स्‍वामीजी महाराज की प्रेेरणा से समाज सेवा का महायज्ञ है. यहां पर स्‍वयं सेवकों द्वारा इसी तरह की सेवा और समर्पण भावना देखने को मिलेगी. जहां पर स्‍वयं सेवकों के रूप में प्रशासनिक अधिकारी, डॉक्‍टर, इंजीनियर, पायलट, व्‍यापारी, मल्‍टीनेशनल कंपनी में काम करने वालों से लेकर दर्जी, मोची, कारपेंटर सभी शामिल होंगे, जो एक साथ सेवाकार्य में जुटे होंगे.

Related Articles

Back to top button