Chhattisgarh

रायपुर – निलंबित ADG जीपी सिंह के राजद्रोह प्रकरण सहित अंतरिम जमानत को लेकर हाइकोर्ट में आज सुनवाई हुई। दोनों पक्षों को सुनने के बाद कोर्ट ने निर्णय सुरक्षित रख लिया है !

2021 जुलाई 21 / PRJ News ब्यूरो / रायपुर : 

आज हाईकोर्ट जस्टिस एन.के व्यास के समक्ष सुनवाई के दौरान राज्य शासन द्वारा मामले की केस डायरी प्रस्तुत की गई, जिस पर बहस करते हुए याचिकाकर्ता के वरिष्ठ वकील किशोर भादुड़ी ने कहा कि आइपीएस सिंह के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का मामला नहीं बनता, बल्कि उन्हें फंसाने के लिए दूसरे की संपत्ति को उनकी बताई गई है, इसी तरह संपत्ति का आंकड़ा बढ़ाने के लिए म्यूचल फंड का गलत तरीके से मूल्यांकन किया गया है, आइपीएस सिंह को फंसाने के लिए राजद्रोह का अपराध दर्ज किया है जो कि अवैधानिक है।
राजद्रोह के प्रकरण में सुप्रीम कोर्ट के आदेश का भी हवाला दिया गया है।

राज्य शासन की तरफ से सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता व राज्यसभा सदस्य केटीएस तुलसी व अमृतोदास ने पक्ष रखा। इस दौरान उन्होंने निलंबित आइपीएस सिंह को तात्कालिक राहत देने का विरोध करते हुए पूरी कार्रवाई का ब्योरा प्रस्तुत किया, सभी पक्षों को सुनने के बाद जस्टिस एनके व्यास ने फैसला आदेश के लिए सुरक्षित रख लिया है।

Related Articles

Back to top button