Bihar

BIHAR : जनवरी के अंत तक बिहार में होगा कुछ बड़ा : इस केंद्रीय मंत्री ने की CM नीतीश की तारीफ, बोले- खरमास खत्म हो गया !

2024 जनवरी 17 / PRJ न्यूज़ ब्यूरो :

क्या नीतीश कुमार की एनडीए में वापसी हो सकती है इस पर पशुपति पारस ने कहा

नीतीश कुमार को लेकर के कई तरह की अटकलें बिहार में चल रही हैं. लेकिन, केंद्रीय मंत्री पशुपति कुमार पारस ने जनवरी के अंत तक नीतीश कुमार को लेकर बड़ा दावा कर दिया है. रालोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पशुपति कुमार पारस 22 जनवरी को अयोध्या में राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होंगे. पारस ने न्यूज़ 18 से बात करते हुए कहा कि पार्टी अध्यक्ष के नाते उनके पास निमंत्रण मिला है, जिसको उन्होंने स्वीकार किया है. और वह इस ऐतिहासिक अवसर पर अयोध्या जाएंगे.

पारस ने कांग्रेस समेत उन पार्टी के नेताओं के ऊपर हमला बोला जो राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह में जाने से मना कर रहे हैं. पशुपति पारस ने कहा कि जो लोग राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह में नहीं जा रहे हैं, उनकी भगवान पर आस्था नहीं है तब तो ऐसा कर रहे हैं, विरोध कर रहे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा इतनी भव्य तैयारी हो रही है यह गर्व की बात है उन्हें गर्व से खुशी होनी चाहिए और जाना चाहिए.

जदयू नेता और बिहार सरकार में मंत्री विजय चौधरी और अशोक चौधरी की तरफ से आंकड़ों का हवाला देकर बिहार के 2005 के बाद हुए विकास की बात कही जा रही है. जबकि आरजेडी की तरफ से 15 महीने की बात की जा रही है,जिसमें नीतीश- तेजस्वी की सरकार का जिक्र करते हुए विकास की बात की गई है. उसकी तुलना 10 साल के मोदी शासन काल से की गई है. इस पर केंद्रीय मंत्री पशुपति कुमार पारस ने कहा, जेडीयू- आरजेडी के लोग क्या कहते हैं मैं नहीं जानता. लेकिन 2005 से लेकर जब तक नीतीश कुमार एनडीए गठबंधन में रहे तब तक निश्चित रूप से बिहार का विकास हुआ है.

पारस ने की नीतीश कुमार की तारीफ

पशुपति पारस ने कहा कि पटना शहर को देखिए पटना के गंगा नदी पर पुल देखिए रोड पर देखिए, जब एनडीए की सरकार थी नीतीश कुमार साथ थे तब बहुत विकास हुआ. पिछले 15 महीने से लालू जी के कैंप में जब वह चले गए तो लगातार कानून व्यवस्था की हालत खराब है. लूट हत्या बलात्कार की घटना हो रही है, दलित महादलित महिलाओं के साथ बलात्कार की घटना होती है. ऐसे ही दानापुर में हुआ. राजद के डिक्शनरी में विकास नाम की कोई चीज नहीं है. 2005 के बाद ही विकास हुआ है जब तक नीतीश कुमार एनडीए गठबंधन के साथ थे.

Related Articles

Back to top button